दूसरे के नाम पर जमीन ट्रान्सफर कैसे करें? पूरी जानकारी

0
14

दूसरे के नाम पर जमीन ट्रान्सफर कैसे करें: दोस्तों यूं तो जब भी आप कोई चीज खरीदने जाते हैं तब आप उसको देखते हैं कि कहीं वह आगे जाकर एक्सपायर ना हो जाए और उसकी कीमत घट ना जाए। ऐसा कई सारी चीजों में होता है जैसे मशीन, कपड़े, खाने की चीजें आदि!

दूसरे के नाम पर जमीन ट्रान्सफर कैसे करें?

पर जमीन एक ऐसी चीज है जिसकी कीमत खरीदने के बाद कभी कम नहीं होती बल्कि बढ़ती ही जाती है और इससे आप को बहुत प्रॉफिट की होता है।

इसलिए जमीन के मामले में ही सौदे अधिक देखने को मिलते हैं। जिन लोगों को पता होता है कि जमीन को दूसरों के नाम कैसे ट्रांसफर करते वो आसानी से अपने जमीन का सौदा किसी और के साथ करके प्रॉफिट कमा लेते हैं पर अगर आपको यह चीज नहीं पता तो आपको यह आर्टिकल जरूर पढना चाहिए।

दूसरे के नाम पर जमीन ट्रान्सफर करने से पहले आवश्यक प्रक्रिया

जब भी कोई आपसे जमीन खरीदने आए। तब आप को उस व्यक्ति को जमीन से जुड़ी सभी जानकारी देनी चाहिए और जब आप देखें कि सामने वाले को आप की जमीन पसंद आ चुकी है तब आप उन्हें जमीन बेच दे और जमीन उनके नाम पर ट्रांसफर कर दीजिए।

जमीन को किसी दूसरे के नाम पर ट्रांसफर कराने के कई तरीके होते हैं जो आपको नीचे दिए गए पॉइंट्स में मिल जाएंगे:-

#1. जमीन का मोल भाव करें:-

किसी भी जमीन को दूसरे को बेचने से पहले आपको जमीन की सही कीमत जान लेनी चाहिए। क्योंकि ऐसा हो सकता है कि जमीन की जो कीमत आप लगा रहे हो वह मार्केट की कीमत से कम हो तो आपको एक बार मार्केट में घूम कर पता लगा लेना चाहिए कि आप पर जमीन की कीमत कितनी है और फिर आपको लेनदार को वह कीमत बतानी चाहिए।

« देखें दिल्ली में जमीन का रेट| जगह सस्ती हुई या फिर महँगी

#2. जमीन से जुड़ी जानकारी दें –

जमीन को बेचते समय आपको लेनदार को अपने जमीन के बारे में हर जानकारी दे देनी चाहिए क्योंकि जमीन खरीदने से पहले लेनदार आपके जमीन की जान जरूर करवाएगा तो अगर आप खुद ही उन्हें अपनी जमीन के बारे में जानकारी दे देंगे तो आपके लेनदार का विश्वास आप पर और ज्यादा बढ़ जाएगा।

#3. अपने नाम पर जमीन के कागजात बनवाएं :-

आप किसी भी जमीन को ऐसे ही नहीं बेच सकते हैं। जमीन बेचने के लिए या फिर उसे किसी और के नाम करने के लिए पहले आपको जमीन की सही कागजात तैयार करनी पड़ेगी तो आप पहले जमीन की सही कागजात तैयार कर लीजिए।

#4. जमीन के ट्रांसफर पेपर पर स्टांप लगाने की विधि को पूरा करें:-

जमीन की पेपर बनवा लेने के बाद आपको उस जमीन के पेपर में स्टांप लगवाना पड़ता है जिसे आप अपने जिले के जिला अधिकारी से करवा सकते हैं स्टांप लगवाने के बाद आप उस जमीन को किसी और के नाम कर सकते हैं।

#5. कानूनी सभी नियमों का अच्छे से पालन करें:-

जमीन के पेपर बनवाने के बाद और उसमें स्टांप लगवाने के बाद आपको उस पेपर को कोर्ट में पेश करना पड़ता है और कानून से उस जमीन को अपने नाम पर ट्रांसफर करने की पूरी इजाजत लेनी पड़ती है इसके बाद आप बड़ी ही आसानी से अपने जमीन को किसी और के नाम पर ट्रांसफर करने में सक्षम हो पाएंगे।

जब जमीन को लेकर सारी कार्यवाही पूरी हो जाए तब जाकर आप अपने जमीन को किसी और के नाम ट्रांसफर कर सकते हैं। जमीन के मामले में काफी उलझन ने लोगों को देखने को मिलती हैं क्योंकि वह सही से यह काम नहीं कर पाते हैं।

पर अगर आप ऊपर बताई गए बातों को ध्यान में रखकर किसी वकील की मदद लेते हैं तब आप के लिए यह काम करना आसान हो जाएगा।

« सरकारी जमीन पर कब्जा कैसे करें? रजिस्ट्री करने का जानें यह तरीका

अपनी जमीन/प्रोपर्टी दूसरे के नाम पर ट्रान्सफर करने के 2 तरीके 

हमें किसी भी काम को करने के लिए केवल एक ही रास्ता नहीं दिखता बल्कि उसके साथ हमें कई और रास्ते भी दिखते हैं जिनमें से हमें ही चुनाव करना पड़ता है कि कौन से सबसे आसान रास्ता।

ठीक उसी तरह जमीन को किसी और के नाम पर ट्रांसफर करवाने के लिए केवल एक ही तरीका नहीं है बल्कि कई दूसरे तरीके भी हैं जो आप नीचे दिए गए पॉइंट में मिल जाएंगे:-

#1. सेल डीड या बिक्रीनामा:-

आजकल ज्यादातर लोग किसी भी जमीन को दूसरे के नाम ट्रांसफर करवाने के लिए इसी तरीके का प्रयोग करते हैं। इस तरीके के अंतर्गत आपको अपनी जमीन की रजिस्ट्री रजिस्ट्रार ऑफिस में जाकर करवानी पड़ती है ।

जमीन को दूसरे के नाम ट्रांसफर करने के लिए आप को जमीन की रजिस्ट्री करनी पड़ेगी। रजिस्ट्री के लिए आपको रजिस्टर ऑफिस कुछ पैसे भी देने पड़ते हैं और जमीन के लिए टैक्स भी कटता है। किसी भी जमीन को किसी दूसरे के नाम पर ट्रांसफर करवाने का ये आसान तरीका है इसके लिए आपको ज्यादा मेहनत करने की जरूरत नहीं पड़ती।

#2. त्यागनामा:-

इस तरीके का यूज़ वे लोग करते हैं जिन्हें अपनी जायदाद या जमीन के किसी हिस्से को किसी दूसरे व्यक्ति को देना होता है। इस तरीके के अनुसार जमीन का मालिक अपनी जमीन को कानूनी रूप से त्याग सकता है और उसके लिए त्याग नामा भी बनवा सकता है।

और अगर वह मालिक अपने जमीन को किसी दूसरे व्यक्ति को दे रहा है या किसी दूसरे व्यक्ति के नाम पर जमीन की व्यवस्था ट्रांसफर कर रहा है तो उसके लिए किए जाने वाले सारे स्टेप ऊपर बताए गए स्टेप्स की तरह ही होंगे।

« आदिवासी की जमीन कैसे खरीदें? जानें पूरी प्रक्रिया 

« बिहार में जमीन का बँटवारा कैसे करें? 

निष्कर्ष

तो इन सभी तरीकों का यूज कर आप दूसरे के नाम पर जमीन ट्रान्सफर करा सकते हैं। उम्मीद है जानकारी पसंद आई होगी, और आप इसे शेयर भी करेंगे।

Rate this post

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here