sher aur khargosh ki kahani -शेर और खरगोश की मजेदार कहानी

0
140
sher aur khargosh ki kahani

दोस्तों ! आज हम sher aur khargosh ki kahani आपके साथ शेयर कर रहे हैं यह कहानी आपको अपनी जिन्दगी का एक सबक भी देती है! तो चलिए इस मजेदार और प्रेणादायक कहानी की शुरुवात करते हैं, ☺️

🐱शेर और खरगोश की कहानी

एक बार की बात है एक जंगल की पहाड़ी में तीन दोस्त खरगोश, हाथी और घोडा रहते थे! वे तीनों ही पहाड़ी की घास खाकर अपना गुजारा कर रहे थे…और आनंद से जीवन बिता रहे थे!

लेकिन धीरे धीरे समय निकलता रहा और एक दिन उस पहाड़ी की सारी घास ☘️खत्म हो गयी।

और वे अब परेशान होने लगे तथा आपस में खुश-फुश करने लगे! क्योंकि खरगोश समेत दोनों दोस्तों को अब दूसरी पहाड़ी पर जाना पड़ेगा! लेकिन पहाड़ी पर जाने से पहले उन्हें एक बड़ी मुसीबत का सामना करके गुजरना था…!

क्योंकि पहाड़ी को पार करने के लिए रास्ते में नदी के ऊपर पुलिया बनी था और उस पुलिया के रास्ते में शेर का कब्जा होता था! इसलिए पुल को पार करने में सबसे बड़ी चुनौती थी शेर से निपटना…🐆

sher pic

लेकिन दोस्तों जैसा की हम सभी जानते हैं शेर हमेशा से ही जंगल का राजा रहा है! इसलिए किसी भी जानवर के लिए शेर से पंगा लेना काफी मुश्किल होता है!

लेकिन खरगोश, हाथी और घोड़े तीनों ने आपस में एक युक्ति सुझाई! और एक-एक कर उस पुल को पार करने का मन बना लिया !

khargosh

अब सबसे पहले खरगोश की बारी थी …🐁उस पुल को पार करने की! तो चुपके से खरगोश पुल को पार करने की कोशिस करने लगा..अच्छी बात यह थी की उस समय शेर सोया हुआ था।

लेकिन खरगोश की आहट से शेर जग गया और उसने खरगोश को रोक लिया । और पुछा… कहाँ जा रहे हो? तुम मेरा भोजन हो!

इस तरह खरगोश ने शेर को दिखाई चालाकी और बचायी जान 😛

खरगोश सुनकर डर गया और धीमी आवाज में कहने लगा “महाराज मुझे अपना भोजन बनाकर क्या करोगे, इससे तो आपका पेट भी नहीं भरेगा ” इससे अच्छा तो मेरा दोस्त घोडा🦄 पीछे से आ रहा है, आप उसे खाकर अपनी भूख शांत कर सकते हैं…

शेर ने कुछ देर सोचा और उसे खरगोश की बात ठीक लगी. उसने खरगोश से कहा “तुम जा सकते हो” और यह सुनते ही खरगोश बेहद खुश हुआ और इस तरह खरगोश किसी तरह अपनी जान बचाकर दूसरी पहाड़ी पर पहुच गया!😊

लेकिन खरगोश के दोस्तों का क्या होगा… बच जायेंगे या शेर का शिकार बन जायेंगे?..पढ़ते रहें☺️

दोस्तों अब बारी थी घोड़े की और घोडा जैसे ही पुल को पार करने ही वाला था इतने में शेर घोड़े को देख गुर्राया और कहा रुक जाओ… घोडा वही रुक गया और बोला “श्रीमान मुझे अपना भोजन बनाकर आपकी भूक एक बार शांत होगी” लेकिन मैं आपके लिए एक हफ्ते के भोजन का इन्तेजाम कर सकता हूँ!

शेर पूछता है क्या.. घोड़े ने कहा “हां पीछे से मेरा दोस्त हाथी आ रहा है आप उसे खाकर पूरे हफ्ते का भरपेट भोजन कर सकते हैं

शेर लालच में आकर घोड़े की बात से सहमत हो गया.! और उसे भी पुल पार करने की इजाजत दे दी! और इस प्रकार घोड़े और खरगोश ने अपनी जान बचा ली!

sher-aur-khargosh

लेकिन अब हाथी का क्या होगा….! दोस्तों जैसे ही भारी भरकम वजनी हाथी पुलिया को पार करने लगा तो शेर ने उसे आवाज लगाई । और कहा “ठैर जाओ” और शेर ने जैसे ही हाथी पर हमला करने के लिए छलांग लगाई हाथी ने जोर की लात शेर को मारी और शेर नदी में दूर जाकर गिर पड़ा..

और इस प्रकार हाथी अपनी मस्त चाल चलते हुए उस पुलिया को पार कर दूसरी पहाड़ी में पहुच गया। और इस तरह तीनों दोस्त अपनी युक्ति में कामयाब होकर काफी खुश हुए! और पहाड़ी में पहले की तरह ही घास खाने लगे!

यह भी पढ़ें- जानिये! sms के जरिये live लोकेशन कैसे शेयर करें- बिना नेट के

sher aur khargosh ki kahani से हमें क्या सीख मिलती है ?

दोस्तों यह कहानी हमें दोनों तरफ से सीख देती है

पहला यदि हम शेर के नजरिये से देखें तो “जिन्दगी में हमें मौकों को कभी नहीं छोड़ना चाहिए! नहीं तो हम कई बार अच्छी चीजों को भी खो देते हैं!


दूसरी तरफ खरगोश, घोडा और हाथी की दोस्ती हमें सिखाती है की कैसे “दिमाग से बड़ी बड़ी मुसीबतों का भी आसानी से सामना किया जा सकता है”😊

उम्मीद है sher aur khargosh ki kahani आपको पसंद आई होगी! कमेंट बॉक्स में अपने विचारो को जरुर बताएं साथ ही इस कहानी को सभी whatsapp ग्रुप्स पर शेयर कर अन्य बच्चों के साथ भी इस कहानी के बारे में जरुर बताएं!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here